उत्तर प्रदेशधर्म

ज्ञानवापी केस के पैरोकार जितेंद्र सिंह विसेन को मिली धमकियां, बोले हो सकते हैं किसी दुर्घटना का शिकार

ज्ञानवापी और श्रीकृष्ण जन्मभूमि प्रकरण के पक्षकार जितेंद्र सिंह विसेन को मिली धमकी

mknews/वाराणसी/रिपोर्ट श्वेताभ सिंह 

ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी मामले में हिंदू पक्ष के पैरोकार जितेंद्र सिंह विसेन और वकीलों को धमकियां मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि अज्ञात लोगों की ओर से ज्ञानवापी प्रकरण से दूर रहने और बनारस नहीं आने की धमकी दी जा रही है।

ज्ञानवापी प्रकरण के पैरोकार और मथुरा श्रीकृष्ण जन्मभूमि के पक्षकार जितेंद्र सिंह विसेन को धमकी मिल रही है। उन्होंने कहा कि अज्ञात लोगों की ओर से ज्ञानवापी प्रकरण से दूर रहने और बनारस नहीं आने की धमकी दी जा रही है।

परिस्थितियां ऐसी बन चुकी है कि परिवार के सदस्य, सहयोगी व मेरे अधिवक्ता कभी भी किसी भी षड्यंत्र या किसी दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। यदि ऐसा कुछ होता है तो हिंदू विरोधी शक्तियों के अतिरिक्त तथाकथित राष्ट्रवादी कुलश्रेष्ठ व कुछ अन्य लोगों के साथ-साथ प्रशासन जिम्मेदार होगा।

उदाहरण के तौर पर मीडिया के माध्यम से समाज में भ्रम फैलाया गया कि राखी सिंह मुकदमा वापस ले रही हैं। मेरे अकाउंट में अज्ञात सूत्रों द्वारा पैसा देकर मुझे बदनाम करना। समाज में यह भ्रम फैलाया गया कि जितेंद्र सिंह बिसेन मुस्लिम पक्ष से मिले हुए हैं।

 

मेरे द्वारा वीडियोग्राफी की सीबीआई जांच की मांग करना। सीबीआई जांच की मांग पर मेरे सहयोगियों के ऊपर फर्जी मुकदमे लादकर उन्हें जेल भेजना। जिससे मेरे साथ जुड़े हुए लोगों का मनोबल टूटा और मेरे कई सहयोगी मुझसे दूर हो गए।

 

उन्होंने आरोप लगाया कि कमीशन कार्रवाई के दौरान चौक थाने से संबंधित पुलिस अधिकारियों का मेरे प्रति दुर्व्यवहार पूर्ण बर्ताव और कुछ तथाकथित लोगों द्वारा कि उन्हें पाकिस्तान से धमकी मिल रही है, वह भी फोन पर मिस कॉल के द्वारा जो पूरी तरह समझ से परे है। न्यायालय परिसर में मेरे अधिवक्ता अनुपम त्रिवेदी को धमकी देना व डराना धमकाना शामिल है।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button