अपराधहरियाणा

कौशल, गैंग के गुर्गे 25000 के इनामी बदमाश नीरज फरीदपुरिया द्वारा लूट, डकैती, एक्सटॉर्शन, लोगों में भय

पैदा करके अर्जित संपत्ति से बनाए गए मकान पर चला फरीदाबाद पुलिस का पीला पंजा

MKNEWS.IN
फरीदाबाद,16 सितंबर सरकार के आदेश अनुसार फरीदाबाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अपराधियों द्वारा अवैध रूप से अर्जित संपत्ति को ध्वस्त करके उनके पर आर्थिक रूप से कड़ा प्रहार किया है।
पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आज फरीदाबाद पुलिस ने शहर के दो अपराधियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए उनके द्वारा अवैध रूप से अर्जित की गई संपत्ति को ध्वस्त किया है। इसमें अपराधी नीरज फरीदपुरिया तथा आसमा खातून का नाम शामिल है। आरोपी नीरज कौशल गैंग का गुर्गा है। आरोपी कौशल तिहाड़ जेल में बंद है। आरोपी नीरज फरीदपुरिया पिछले 8 वर्षों से अपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा है जिसके खिलाफ 21 मुकदमे दर्ज हैं जिसमें 4 मुकदमे हत्या व अन्य 17 मुकदमे हत्या का प्रयास, डैकैती, लूट, एक्सटॉर्शन ,अवैध हथियार, लड़ाई झगड़ा तथा प्रिजनर एक्ट के शामिल हैं। आरोपी नीरज अवैध कब्जा तथा अवैध वसूली का काम करता है। आरोपी जमानत पर जेल से बाहर आया हुआ था और इसी दौरान उसने अपने साथियों के साथ मिलकर पलवल में एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी जिसका मुकदमा पलवल थाने में दर्ज है और इस मामले में आरोपी 25000 का इनामी बदमाश है। आरोपी एरिया में अपना दबदबा बनाने के लिए अपने साथियों के साथ मिलकर लोगों को डरा धमकाता था और अवैध कब्जे तथा अवैध वसूली का काम करता है। आरोपी ने गांव की सार्वजनिक पूजास्थल की जमीन पर अवैध कब्जा करके मकान बना रखा था जिसे फरीदाबाद पुलिस ने मिलकर ध्वस्त करते हुए जमीन को वापस गांव को समर्पित कर दिया है।
इसके साथ ही सेक्टर 31 एरिया में एत्मादपुर सब्जी मंडी में आसमा खातून नाम की एक महिला ने गांजा तस्करी करके एमसीएफ की जगह पर अवैध दुकानों का निर्माण किया हुआ था। महिला के खिलाफ अवैध नशा तस्करी के 7 मुकदमे दर्ज हैं वही आरोपित महिला की दो बेटियों अफसाना और शबाना के खिलाफ भी नशा तस्करी के 2-2 मुकदमे दर्ज हैं। आरोपित महिला सब्जी मंडी में दुकान लगाती थी और इसकी आड़ में नशा बेचने का काम करती थी। आरोपित महिला द्वारा बनाई गई इन दुकानों को भी फरीदाबाद पुलिस तथा एमसीएफ की टीमों ने मिलकर ध्वस्त कर दिया गया है।
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि हर इंसान का उद्देश्य पैसे कमाना होता है चाहे वह अवैध रूप से कमाए या अवैध काम करके। इसलिए यदि अवैध रूप से कमाई गई संपत्ति को ध्वस्त किया जाएगा तो उससे अपराधियों को आर्थिक रूप से भी किया जाएगा कमजोर जिसकी वजह से उनके हौसले पस्त होंगे ।
फरीदाबाद पुलिस द्वारा अवैध रूप से संपत्ति अर्जित करने वाले अपराधियों की सूची तैयार की जा रही है जिनके खिलाफ फरीदाबाद पुलिस की कार्रवाई इसी तरह जारी रहेगी।

MK News

आम आदमी का अधिकार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button