अंतर्राष्ट्रीयबिज़नेसलाइफस्टाइल

PM Modi आज सुबह 10 बजे लॉन्च करेंगे 5G सेवा, इन 13 शहरों में पहले मिलेगी सर्विस

2023 तक देश के हर तहसील तक पहुंच जाएंगी 5जी सेवाएं

mknews/नई दिल्ली/रिपोर्ट श्वेताभ सिंह

 

प्रौद्योगिकी में एक नए युग की शुरुआत करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 10 बजे 5 जी सेवाओं का शुभारंभ करेंगे। 5G सेवाएं भारत में निर्बाध कवरेज, उच्च डेटा दर, कम विलंबता और अत्यधिक विश्वसनीय संचार प्रदान करेंगी।

 

भारत में 5जी तकनीक की क्षमता दिखाने के लिए देश के तीन प्रमुख टेलीकॉम ऑपरेटर प्रधानमंत्री के सामने एक-एक यूज केस का प्रदर्शन करेंगे।

रिलायंस जियो मुंबई के एक स्कूल के एक शिक्षक को महाराष्ट्र, गुजरात और ओडिशा में तीन अलग-अलग स्थानों के छात्रों से जोड़ेगी। यह प्रदर्शित करेगा कि कैसे 5G शिक्षकों को छात्रों के करीब लाकर, उनके बीच की शारीरिक दूरी को मिटाकर शिक्षा की सुविधा प्रदान करेगा। यह स्क्रीन पर ऑगमेंटेड रियलिटी ‘ एआर’ (Augmented Reality ‘ AR’ )की शक्ति को प्रदर्शित करेगा और इसका उपयोग देश भर के बच्चों को एआर डिवाइस की आवश्यकता के बिना, दूरस्थ रूप से सिखाने के लिए कैसे किया जा रहा है।

एयरटेल डेमो में, उत्तर प्रदेश की एक लड़की वर्चुअल रियलिटी (Virtual Reality) और ऑगमेंटेड रियलिटी ( Augmented Reality) की मदद से सौर मंडल के बारे में जानने के लिए एक जीवंत और इमर्सिव शिक्षा अनुभव देखेगी। लड़की होलोग्राम के माध्यम से मंच पर उपस्थित होकर अपने सीखने के अनुभव को प्रधानमंत्री के साथ साझा करेगी।

 

Reliance Jio 5G स्मार्टफोन की कीमत 12,000 रुपये से कम: रिपोर्ट 

वोडाफोन आइडिया (VI) टेस्ट केस दिल्ली मेट्रो की एक निर्माणाधीन सुरंग में कामगारों की सुरक्षा को डायस पर सुरंग के डिजिटल ट्विन के निर्माण के माध्यम से प्रदर्शित करेगा। डिजिटल ट्विन दूरस्थ स्थान से वास्तविक समय में श्रमिकों को सुरक्षा अलर्ट देने में मदद करेगा। पीएम वीआर और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस( Artificial Intelligence)    का उपयोग करके वास्तविक समय में काम की निगरानी के लिए डायस से लाइव डेमो लेंगे।

प्रौद्योगिकी के भविष्य का पता लगाने के लिए एक प्रदर्शनी

प्रधानमंत्री एक प्रदर्शनी का दौरा करेंगे और कई क्षेत्रों में 5जी प्रौद्योगिकी के उपयोग के प्रदर्शन को देखेंगे। प्रदर्शनी में पीएम के सामने प्रदर्शित किए जाने वाले विभिन्न उपयोग के मामलों में सटीक ड्रोन आधारित खेती शामिल है; उच्च सुरक्षा राउटर और एआई आधारित साइबर थ्रेट डिटेक्शन प्लेटफॉर्म; स्वचालित निर्देशित वाहन; अंबुपॉड – स्मार्ट एम्बुलेंस; संवर्धित वास्तविकता / आभासी वास्तविकता / शिक्षा और कौशल विकास में वास्तविकता का मिश्रण; सीवेज निगरानी प्रणाली; स्मार्ट-कृषि कार्यक्रम; स्वास्थ्य निदान, दूसरों के बीच में।

5जी सेवाओं के लाभ

5G तकनीक आम लोगों को व्यापक लाभ प्रदान करेगी। यह निर्बाध कवरेज, उच्च डेटा दर, कम विलंबता और अत्यधिक विश्वसनीय संचार प्रदान करने में मदद करेगा। साथ ही, यह ऊर्जा दक्षता, स्पेक्ट्रम दक्षता और नेटवर्क दक्षता में वृद्धि करेगा।

5G तकनीक अरबों इंटरनेट ऑफ थिंग्स उपकरणों को जोड़ने में मदद करेगी, उच्च गति पर गतिशीलता के साथ उच्च गुणवत्ता वाली वीडियो सेवाओं की अनुमति देगी, टेली-सर्जरी और स्वायत्त कारों जैसी महत्वपूर्ण सेवाओं की डिलीवरी।5G आपदाओं की वास्तविक समय पर निगरानी, ​​सटीक कृषि, खतरनाक औद्योगिक कार्यों जैसे गहरी खदानों, अपतटीय गतिविधियों आदि में मनुष्यों की भूमिका को कम करने में मदद करेगा।

मौजूदा मोबाइल संचार नेटवर्क के विपरीत, 5G नेटवर्क एक ही नेटवर्क के भीतर इन विभिन्न उपयोग मामलों में से प्रत्येक के लिए आवश्यकताओं को पूरा करने की अनुमति देगा।

 

2023 तक देश के हर तहसील तक पहुंच जाएंगी 5जी सेवाएं

5जी इंटरनेट का इंतजार खत्म हुआ। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी औपचारिक रूप से देश में 5जी सेवाओं का शुभारंभ करेंगे। इसके साथ ही लोग तेज रफ्तार इंटरनेट सेवा का आनंद उठा सकेंगे। हालांकि, आम लोगों तक सेवा को पहुंचने में वक्त लगेगा।

सर्विस की शुरुआत आम लोगों के लिए करने को लेकर दो बड़ी कंपनियों रिलायंस जियो और एयरटेल ने पहले ही जानकारी दे रखी है। रिलायंस जियो दिवाली तक दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता जैसे महानगरों में हाई-स्पीड मोबाइल इंटरनेट सेवाएं शुरू करेगी।

कंपनी ने इस साल 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी में 88,000 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाकर 5जी तकनीक पर सबसे ज्यादा पैसे खर्च किए हैं। कंपनी के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने अगस्त में कहा था कि दिसंबर, 2023 तक देश के हर शहर, हर तालुका और हर तहसील में जियो 5जी पहुंच जाएगा।

 

वहीं, भारती एयरटेल ने भी 2023 के अंत तक सभी शहरों में 5जी सेवा पहुंचाने का वादा कर रखा है। 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में इस कंपनी ने जियो के बाद सबसे अधिक पैसा खर्च किया है। यह कंपनी गांवों तक 5जी की सेवा मार्च 2024 तक उपलब्ध कराएगी।

इन शहरों में सबसे पहले मिलेंगी सेवाएं

आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कुछ दिन पहले कहा था कि देश में 5जी को धीरे-धीरे अलग-अलग फेज में लॉन्च किया जाएगा। पहले फेज के लिए 13 शहरों का चयन हुआ है। इनमें मेट्रो शहर जैसे दिल्ली, मुंबई, कोलकाता आदि शामिल हैं। इसके बाद दो साल में पूरे देश में 5जी कनेक्टिविटी का तेजी से विस्तार किया जाएगा। पहले फेज में 13 शहर अहमदाबाद, बेंगलुरु, चंडीगढ़, चेन्नई, दिल्ली, गांधीनगर, गुरुग्राम, हैदराबाद, जामनगर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे में 5जी कनेक्टिविटी की शुरुआत की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button